Thymoma Patient Information Videos

 

What is Thymoma - Symptoms and Diagnosis

Thymoma - Complete Surgical Removal and Treatment

 
 
 

Thymoma - Risks of Surgery and Recovery

Thymoma - Robotic Thymectomy and VATS Surgery

 
 
 
 

Thymoma Patient Video | Robotic Surgical Removal

 

 

 

 

थायमोमा क्या होता है ?

Thymoma(थायमोमा), Thymus Gland (थायमस ग्रंथि) का tumour है | Thymus Gland छाती में ह्रदय के सामने होती है | Thymoma के लक्षण अलग अलग होते हैं | कभी कभी इस Tumour का पता छाती का X-Ray या C.T. Scan में लगता है इस बीमारी के कुछ लक्षण जैसे छाती में दर्द या खाँसी इत्यादि है

Myasthenia Gravis के रोगी की जाँच के दौरान भी अक्सर Thymoma का पता चलता है | छाती के C.T. Scan द्धारा Thymoma का Diagnosis किया जाता है

Tumour कितना बड़ा है और किस किस अंग में फैल चुका है अर्थात् उसकी "Stage" भी पता लगती है Myasthenia रोगी में CT Scan में tumour दिखने पर Thymoma का diagnosis पक्का होता हैं और biopsy आवश्यक नहीं है अन्यथा, biopsy द्धारा diagnosisको पक्का करना आवश्यक हैं Thymoma का शक होने पर पतली सुई से biopsy करते है नाकि मोटी सुई
से

Thymoma कैंसर है या नहीं - यह प्रश्न अक्सर पूछा जाता है यह बढ़ने और फैलने वाला tumour है - और आप कैंसर जैसा मान सकते हैं क्योंकि अगर समय रहते ऑपरेशन न किया जाये तो यह आसपास के सारे अंगों में फैल जाता है समय बीतने के साथ Thymoma बढ़ता और फैलता है यह फैलकर आसपास के अंगो जैसे हृदय की झिल्ली, फ्रेनिक नसें, फेफड़े और हृदय की खून लाने व ले जाने वाली veins को जकड़ लेता है यह स्थिति खतरनाक होती है साधारण सा thymoma समय पर उपचार ना करने पर जीवन के लिये खतरा बन जाता है

 

 

थायमोमा का इलाज़

अगर thymoma का diagnosis पक्का हो गया है तो उसका तुरंत उपचार आवश्यक है । Thymoma का इलाज़ कोई दवा या इंजेक्शन नहीं हैं ना ही यह अपने आप ठीक होता है इसका तुरंत इलाज़ आवश्यक है और एकमात्र इलाज़ सर्जरी द्धारा उसको "पूर्ण" निकाला जाना ही है

कीमोथेरेपी एवं विकिरण थेरेपी का भी प्रयोग Thymoma के इलाज़ में होता है परन्तु मुख्य इलाज़ सर्जरी ही है एवं बाद में अन्य थेरेपी भी दी जाती है अगर Thymoma बहुत बड़ व फैल चुका हो तो पूर्ण रूप से tumour को निकाला जाना thymoma को जड़ से मिटाने के लिये आवश्यक है छाती के कैंसर अक्सर बहुत तेजी से फैलते है और रोगी की जान ले लेते हैं किन्तु Thymoma छाती का एकमात्र ऐसा कैंसर है जो अगर पूर्ण रूप से निकाल दिया जाये तो रोगी हमेशा के लिये ठीक हो जाता है

Thymoma का पूर्ण रूप से निकाला जाना सबसे महत्वपूर्ण है और "Cure" उसी के द्धारा संभव है । आसपास के अंग भी अगर tumour ने जकड़ लिये हैं तो उन्हें भी पूर्णतः निकल दिया जाता है इसी के द्धारा रोगी लंबे तक ठीक रह पाता है। पूर्ण tumour निकल पाने पर "Cure" संभव हैं निकाले गये tumour को हमेशा biopsy के लिये भेजा जाता है और आगे का इलाज़ यानी कीमोथेरेपी या विकिरण थेरेपी का निर्णय उस रिपोर्ट पर निर्भर करता है

Thymoma की सर्जरी 4 तरह से की जा सकती हैं
Open सर्जरी अर्थात् छाती की हड्डी को काट कर ज्यादातर सर्जन ऐसे ही करते हैं गर्दन में चीरा लगाकर बहुत कम सर्जन करतें है

VATS (Key-Hole) या दूरबीन पद्धति द्वारा एक साइड से या दोनों साइड से या दोनों साइड से VATS (Key-Hole) या दूरबीन पद्धति द्वारा एक साइड से या छाती की दोनों साइड से सर्जरी की जाती है |

और latest पद्धति Robot (रोबोट) इसमें स्पेशल कैमरा होता है latest पद्धति Robot (रोबोट) जिसमें 3 छोटे छोटे चीरों के सहायता से सर्जरी की जाती है और इसमें स्पेशल कैमरा होता है जो 3D picture देता हैं , स्पेशल औज़ार होते है जो बिलकुल हाथ की तरह कार्य करता है Open, Transcervical, VATS (Key-hole) एवं Robotic पद्धति द्वारा सर्जरी को किया जा सकता हैं

 

 

सर्जरी के विकल्प

Thymoma की सर्जरी कई तरह से की जा सकती है Open सर्जरी में हम छाती के बीच से हड्डी को दो हिस्सों में काटतें है और अंदर हाथ डालकर tumour निकलतें है और अन्त में हड्डी को स्टील के तार से दुबारा जोड़ देते हैं ज्यादातर सर्जन Thymoma की सर्जरी इसी पद्धति द्वारा करतें है इसमें रोगी के शरीर को बहुत चोट पहुँचती है, कई दिन ICU में रहना पड़ता है, 7-10 दिन हॉस्पिटल में रहना पड़ता है, दर्द ज्यादा होता है, रोगी को खून देना पड़ता है, इन्फेक्शन होने एवं हड्डी न जुड़ने का खतरा होता हैं, हड्डी न जुड़ने पर serious problem होती है

कई सावधानियाँ रखनी पड़ती हैं और सामान्य जीवन वापिस आने में 2-3 महीने लग जाते हैं गर्दन में चीरा लगाकर भी यह सर्जरी की जाती है किन्तु tumour पूरा नहीं निकल पता पिछले 15-20 वर्षों से VATS (Key-hole) द्वारा thymoma की सर्जरी की जा रही हैं

जो India में सबसे पहले हमारी टीम ने सन 2000 में AIIMS, New Delhi में शुरू की थी ! इस पद्धति द्वारा सर्जरी हो तो जाती है किन्तु tumour बड़ा होने पर यह आसपास के अंगों में फैले होने पर अक्सर open surgery में convert करना पड़ता है रोबोटिक सर्जरी Thymoma का latest और best पद्धति है और इसने जटिल जटिल से tumour को भी Key-Hole से करना संभव बना दिया है

रोबोट द्वारा Thymoma की सर्जरी रोबोट सर्जरी द्वारा जटिल से जटिल thymoma की सर्जरी आसानी से की जा सकती है रोबोट द्वारा Thymoma की सर्जरी तीन छोटे छिद्र, कम चीर फाड़, कम मात्रा में खून बहना, बहुत काम दर्द होना, कम निशान या दाग पड़ना, कम दिन हॉस्पिटल में रुकना, दवाओं का काम उपयोग, सामान्य दिनचर्या में जल्दी वापसी Thymoma की सर्जरी Robot के द्वारा बहुत अच्छे से की जा सकती है यह सर्जरी Robot के द्वारा किसी अनुभवी टीम के द्वारा ही करवायें Robot के द्वारा जटिल जटिल से ऑपरेशन भी आराम से किया जा सकता है

 

 

सर्जरी के दौरान खतरा एवं रिकवरी

अक्सर पूछे जाने वाला प्रश्न - Thymoma की सर्जरी के क्या Risks हैं ? यह निर्भर करता है किस प्रकार की सर्जरी की जा रही हैं अगर Open सर्जरी है तो छाती की हड्डी को काट कर सर्जरी की जाती है जिसमें हड्डी के ना जुड़ने की और जख्म में इन्फेक्शन होने का खतरा होता है | मरीज को अपने सामान्य दिनचर्या में वापिस आने में 2-3 महीने लग जाते है Open सर्जरी की तुलना Robotic सर्जरी में इन्फेक्शन होने की संभावना ना के बराबर है Robotic सर्जरी में कम मात्रा में खून बहना, बहुत काम दर्द होना, सामान्य दिनचर्या में जल्दी वापसी होती हैं Robotic सर्जरी में Open सर्जरी की तुलना में खतरा बहुत कम होता है इस ऑपरेशन को किसी अनुभवी सर्जन से ही करवायें क्योंकि यह एक बहुत Complex ऑपरेशन होता है Thymoma का tumour हमारे हृदय के बिलकुल निकट होता हैं

मरीज की धड़कन के साथ यह tumour भी हिलता है और सर्जन के औज़ार हृदय के ऊपर बैठे Thymoma के tumour पर ऑपरेट करते है अर्थात सर्जन का बहुत अनुभवी होना आवश्यक है | इसलिए एक अनुभवी सर्जन से कराई गयी Robotic सर्जरी में Risk बहुत कम है | एक और अक्सर पूछे जाने वाला प्रश्न - मरीज़ कब से अपने सामान्य दिनचर्या में वापिस आ सकता है ? यह निर्भर करता हैं किस प्रकार की सर्जरी होती है

अगर Open सर्जरी हैं तो लगभग 7-10 दिन के लिए हॉस्पिटल में रुकना पड़ सकता हैं और लगभग 2-3 महीनों में सामान्य दिनचर्या में वापसी हो जाती हैं Open सर्जरी के बाद बहुत सारी सावधानियाँ जैसे भार न उठाना, गाड़ी ना चलना, सीडी ना चड़ना इत्यादि रखनी पड़ती है

मरीज को लगभग 3-4 हफ्ते बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता हैं जो मरीज वृद्ध या steroids पर होते हैं उन्हें Healing में ज्यादा परेशानी होती हैं अगर आप Robotic सर्जरी करवा रहें है तब रिकवरी बहुत जल्दी होती हैं, इन्फेक्शन का खतरा ना के बराबर होता है, दर्द बहुत कम होता हैं, खून चडाने की सम्भावना भी बहुत कम होती हैं, 2-3 हफ़्तों में सामान्य दिनचर्या में वापसी हो जाती हैं

Patient Information Series View Entire Series

 
Lung Cancer Thymoma Myasthenia Gravis Tracheal Tumour
Copyright @ Dr. (Prof.) Arvind Kumar. All Rights Reserved
Powered by The Web Creatives
License Number: U.P State Medical Council (India) No. 27637